Shaandaar movie song lyrics

शाम शानदार Lyrics - शानदार | अमित त्रिवेदी

watch song


सर  झुका  के  कर  सलाम  हैं  शाम  शानदार 
आसमान  से  आ  गिरी  है  शाम  शानदार 

चकदे  अँधेरा 
चाँद  जला दे , बल्ब  बनके .. 
फ़िक्र  न  कर्यो
करना  भी  क्या  है 
बिजली  बचा   के 
सर्र -ए  आम  पिला  ख़ुशी  के  जाम  शानदार 
आसमान  से  आ  गिरी  है  शाम  शानदार 

जज़्बात  के  चिल्लर  को  नोट  बना  के 
मेहँदी  रात  पे  खुलके  लूटा 
चिंगारियों  को ..
विस्फोट  बना  के 
ऐयाशी  के  तू  राकेट  छुड़ा 
कैसा  डर  तू  कर  गुज़र 
यह  काम  शानदार 
आसमान  से  आ  गिरी 
यह  शाम  शानदार 

यह  शाम  शानदार 
यह  शाम  शानदार